Saturday 25th of June 2022 03:18:28 AM

Breaking News
  • एन.डी.ए. की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कई केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों की उपस्थिति में नामांकन पत्र दाखिल किया।
  • भारतीय वायुसेना ने अग्निपथ योजना के अंतर्गत अग्निवीरों के पहले बैच की भर्ती के लिए आज से पंजीकरण शुरू किया।
  • एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी ने कहा-साइबर, सूचना और अंतरिक्ष युद्ध के नए क्षेत्र बन रहे हैं।
  • उच्‍चतम न्‍यायालय ने 2002 के गुजरात दंगों के मामले में तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी सहित 64 लोगों को एसआईटी की क्लीन चिट को चुनौती देने वाली याचिका खारिज की।
  • यूरोपीय संघ ने यूक्रेन, मोल्दोवा और जॉर्जिया को उम्मीदवार का दर्जा दिया।
Facebook Comments
By : Nishpaksh Pratinidhi | Published Date : 26 Apr 5:58 PM |   126 views

किसान मेले का आयोजन किया गया

भाटपाररानी -आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत एक दिवसीय किसान मेले का आयोजन कृषि विज्ञान केंद्र मल्हना भाटपार रानी देवरिया पर किया गया ।

किसान भागीदारी प्राथमिकता हमारी अभियान की अवधारणा पर देशभर के 700 से अधिक कृषि विज्ञान केंद्रों पर आत्मा के सहयोग से आयोजित किसान मेले का उद्घाटन वर्चुअल रूप से माननीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री भारत सरकार  नरेंद्र सिंह तोमर ने किया इस अवसर पर विभिन्न कृषि विज्ञान केंद्रों पर पधारे प्रगतिशील कृषकों से बातचीत की जिसमें किसानों से अपनी आय को दुगना बनाने में लाभकारी विभिन्न तकनीकों की चर्चा की।

केन्द्र पर पर आयोजित इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि गिरीश चंद तिवारी  जिला पंचायत अध्यक्ष ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि अपने जनपद में पहले बहुत से पोषक अनाज उगाए जाते थे जिसमें मंडुआ,रागी ,सावा ,कोदो , बजरा बजरी आदि को बहुतायत से उगाया जाता था इसके साथ ही जनपद दलहनी फसलों के लिए विख्यात था | परंतु आज मोटे अनाजों के साथ साथ दलहनी फसलों की खेती धीरे-धीरे कम होती जा रही है उन्होंने मोटे पोषक अनाजों के साथ-साथ दलहनी फसलों की खेती पर बल दिया साथ में उन्होंने बताया की प्राकृतिक ढंग से उगाए गए फसलों की गुणवत्ता बहुत अच्छी होती है और उसमें विभिन्न प्रकार के पोषक तत्व मौजूद होते हैं तथा बाजार में उनका मूल्य भी ज्यादा मिलता है।

सांसद लोक सभा सलेमपुर प्रतिनिधि जय नाथ कुशवाहा ने केंद्र सरकार द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न योजनाओं की सराहना करते हुए बताया कि प्रधानमंत्री  किसानों के बारे में एक अच्छी सोच रखते हैं और किसानों की आय को दुगनी करने में विभिन्न परियोजनाओं को किसानों तक ले आ रहे हैं।

मेले में पधारे विभिन्न आगंतुकों का स्वागत करते हुए केंद्र के प्रभारी रजनीश श्रीवास्तव ने कृषि पर चर्चा के दौरान भारतीय प्राकृतिक खेती के बारे में प्रकाश डाला तथा किसानों से पोषक अनाज के उत्पादन को बढ़ाने के लिए बल दिया।

उन्होंने किसानों को खेती के साथ-साथ पशुपालन पर जोर दिया क्योंकि बिना पशुपालन के भारतीय प्राकृतिक खेती संभव नहीं है। इसलिए एक गाय पाल कर 30 एकड़ की प्राकृतिक खेती की जा सकती है।साथ में उन्होंने बायोफोर्टीफाइड प्रजातियों की भी चर्चा की है |

पथरदेवा के प्रगतिशील किसान  शुक्ला ने किसानों की तरफ से अपनी बात रखी। मेले में जनपद के विभिन्न विभागों द्वारा अपने स्टाल लगाकर किसानों को जानकारी दी गई।

कार्यक्रम में जिला कृषि अधिकारी एवं प्रभारी उपनिदेशक कृषि मोहम्मद मुजम्मिल,कृषि रक्षा अधिकारी रतन शंकर ओझा जिला गन्ना अधिकारी आनंद शुक्ला जिला उद्यान अधिकारी सीताराम यादव एवम आत्मा प्रभारी पंकज मिश्रा सहित कृषि विभाग से जुड़े अधिकारी और कर्मचारी तथा भारतीय जनता पार्टी के विभिन्न पदाधिकारी  मंडल अध्यक्ष राजेन्द्र जायसवाल जिला मंत्री अभिषेक जायसवाल अशोक पांडे,  महंत , जिला पंचायत सदस्य हर्षवर्धन पांडे मंडल अध्यक्ष किसान मोर्चा संतोष पटेल आदि मौजूद रहे ।

जनपद के विभिन्न विकास खंडों से पधारे रमेश मिश्रा ,अजीत सिंह, सुरेंद्र सिंह सावित्री राय सहित 300 से अधिक किसानों ने भाग लिया।

कार्यक्रम समापन डॉक्टर आर पी साहू के धन्यवाद प्रस्ताव के साथ हुआ। कार्यक्रम का संचालन करते हुए अजय तिवारी ने केंद्र पर चल रही गतिविधियों के बारे में भी चर्चा की।

Facebook Comments