Saturday 25th of September 2021 07:58:44 AM

Breaking News
  • मोदी ने हैरिस से मुलाकात की, द्विपक्षीय संबंधों, हिंद-प्रशांत पर चर्चा की|
  • राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने आज वर्चुअल माध्‍यम से 2019-20 के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना पुरस्कार प्रदान किए।
  • राष्‍ट्रव्‍यापी टीकाकरण अभियान के तहत अब तक 84 करोड 15 लाख कोविड रोधी टीके लगाए गए। स्‍वस्‍थ होने की दर 97 दशमलव सात-आठ प्रतिशत हुई।
  • पहला हिमालयन फिल्‍म महोत्‍सव लद्दाख के लेह में आज से शुरू हो रहा है।
Facebook Comments
By : Nishpaksh Pratinidhi | Published Date : 26 Sep 6:11 PM

बकरी पाल कर आत्मनिर्भर बनेंगे प्रवासी

देवरिया – कृषि विज्ञान केंद्र मलहना भाटपार रानी द्वारा बकरी पालन पर तीन दिवसीय प्रशिक्षण आयोजित किया गया प्रशिक्षण कार्यक्रम के उपरांत प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाण पत्र वितरित किए गए इसके पूर्व में कार्यक्रम के उद्घाटन करते हुए केंद्र के प्रभारी रजनीश श्रीवास्तव ने बताया कि गरीब भूमिहीनों के लिए बकरी पालन एक ऐसा व्यवसाय है जिसको कम पूंजी में शुरू करके अच्छा मुनाफा प्राप्त किया जा सकता है प्रशिक्षण के दौरान  बकरी की विभिन्न प्रजातियों उनके रहन-सहन के लिए आवास प्रबंधन, उनके आहार प्रबंधन  एवं उनमें लगने वाले रोगों के नियंत्रण के बारे में विस्तार से चर्चा की गई।

केंद्र के वैज्ञानिक डॉक्टर आर पी साहू ने शिक्षार्थियों को बकरी पालन के लिए लगने वाले खर्च एवं लाभ का ब्यौरा प्रस्तुत किया। उन्होंने बकरी प्राप्त करने के लिए केंद्रीय बकरी अनुसंधान संस्थान मखदूम मथुरा से संपर्क करने का सुझाव दिया। क्षेत्र प्रबंधक अजय तिवारी ने प्रशिक्षार्थियों को बकरी के आहार प्रबंधन के लिए विभिन्न प्रकार के चारो एवं पौधों के उगाने की तकनीक पर बल दिया।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा चलाए गए प्रशिक्षण क्रम में 14 वे  प्रशिक्षण कार्यक्रम में बलिंदर, अंकित सिंह बघेल, राम नारायण पांडे, ईश्वर सिंह रामू चौहान विनोद यादव उर्मिला देवी, नैना देवी सहित सहित प्रवासियों या उनके परिवार के लोगों ने भाग लिया। केंद्र द्वारा जनपद के प्रवासियों के लिए अगला प्रशिक्षण कार्यक्रम दिनांक 27 सितंबर से मुर्गी पालन विषय पर आयोजित होगा।

Facebook Comments